वर्कर्स फ्रंट ने उठाया वेज रिवीजन का मुद्दा उठाया अनपरा गेट पर मजदूरों से हुआ संवाद

(पीडीआर ग्रुप)

अनपरा-सोनभद्र|अनपरा तापीय परियोजना में मजदूरों से संवाद करते हुए श्रम बंधु और वर्कर्स फ्रंट प्रदेश अध्यक्ष दिनकर कपूर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित मजदूरी के सापेक्ष प्रदेश में मजदूरी की दर तकरीबन आधी है दरअसल इसकी वजह 2014 से प्रदेश में वेज रिवीजन न होना है। कहा कि प्रदेश सरकार कारपोरेट घरानों को सस्ता श्रम मुहैया कराने को अपनी उपलब्धि बता रही है इसी वजह से वेज रिवीजन सरकार के ऐजेंडे में नहीं है। कहा कि 2014 से इस समयावधि में मंहगाई में दुगना से ज्यादा ईजाफा हुआ है ऐसे में अगर प्रदेश सरकार भी मंहगाई को देखते हुए वेज रिवीजन करती तो आज एनटीपीसी व एनसीएल के समकक्ष मजदूरी की दरें होती। कहा कि आज मजदूरों पर हमला तेजी से बढ़ा है। इसमें भी मजदूरों पर हमला करने में योगी सरकार सबसे आगे है। कहा कि परियोजना निर्माण के समय से ही लाल टावर बस्ती में बसे मजदूरों का बेवजह उत्पीड़न किया जा रहा है। लाल टावर, डब्ल्यू आई कालोनी बस्ती में पानी की आपूर्ति रोकने की परियोजना प्रशासन की कार्यवाही अनुचित और अमानवीय है। ठेका मजदूर यूनियन मंत्री तेजधारी गुप्ता ने कहा कि अनपरा में तीन महीने से मजदूरी भुगतान नहीं किया जा रहा है। कुशल मजदूरों को निर्धारित मजदूरी 451 रू के बजाय महज 250-300 मजदूरी दी जा रही है। बताया कि कुशल मजदूरों के लिए निर्धारित बोनस 11726 रू है लेकिन ज्यादातर मजदूरों को दिया ही नहीं जा रहा है जिन्हें दिया भी जा रहा है उन्हें 3000-3500 भुगतान किया जा रहा है। संवाद में मजदूरों ने बताया कि अगर शासन द्वारा निर्धारित मजदूरी, बोनस आदि की मांग अधिकारियों से की जाती है तो उन्हें काम से ही हटा दिया जाता है। मजदूरों द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी गुहार लगाई गई है लेकिन अनपरा में मजदूरों का शोषण बेइंतहा जारी है। संवाद के दौरान ठेका मजदूर यूनियन मंत्री तेजधारी गुप्ता, गोविन्द प्रजापति, जमुना यादव, सलीम, राम कुमार वर्मा, दुनिया राम, सुरेन्द्र पाल, दद्उ यादव, कन्हैयालाल गुप्ता, राम सागर, एलेक्जेंडर आदि मौजूद रहे।

deepak jaiswal

Related Posts

Read also x