PDR News Sonbhadra

हर खबर की सच्चाईं आप तक

भाकपा माले ने राबर्ट्सगंज चौकी प्रभारी को सस्पेंड करने की मांग को लेकर एसडीएम को सौंपा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन

(पीडीआर ग्रुप)

दुद्धी/ सोनभद्र| भारत कम्युनिस्ट पार्टी( मार्क्सवादी लेनिनवादी) के बिगन राम गोंड के नेतृत्व में पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने आज उपजिलाधिकारी दुद्धी रमेश कुमार को मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपकर रॉबर्ट्सगंज चौकी इंचार्ज दरोगा योगेंद्र सिंह को सस्पेंड कर मो कलीम व उसकी नाबालिक पुत्री आमीन के साथ बदसलूकी के मामले में न्यायिक जांच की मांग उठाई है ,साथ कामरेड कलीम को फौरन रिहा के साथ एफआई आर वापस लिए जाने की मांग उठाई है|
मुख्यमंत्री के नाम संबोधित एसडीएम को दिए ज्ञापन में कहा है कि पैरालिसिस के मरीज हाथ पैर से लाचार ,व्हील चेयर के सहारे जा रहे कामरेड कार्यकता मो कलीम और उनकी नाबालिक बेटी इंटर की छात्रा आमीना के साथ बदसलूकी व बर्बर पिटाई और जेल भेजने की शर्मनाक घटना को अंजाम दिया|प्रकरण की जांच करवाकर चौकी प्रभारी को दंडित किये जाने की मांग उठाई है|
घटना 5 जून 2021 लोक नायक जयप्रकाश के ऐतिहासिक सम्पूर्ण क्रांति आह्वाहन को 47वीं वर्ष गांठ थी इस दिन दिल्ली सीमा पर पिछले 6 माह से भी अधिक समय से धरना रत किसान संगठनों ने तीन केंद्रीय कृषि कानून के खिलाफ देशव्यापी प्रतिवाद आह्वाहन किया था इसी को लेकर इसी दिन रॉबर्ट्सगंज एकजुटता प्रदर्शित करते हुए भाकपा माले के प्रतिनिधिमंडल ने एसडीएम सोनभद्र से उनके कार्यालय पर मिलकर कृषि कानूनों के खिलाफ कृषि कानूनों की वापसी की मांग को लेकर महामहिम राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा था इस प्रतिनिधि मंडल में भाकपा कार्यकर्ता मो कलीम व्हील चेयर पर बैठकर अपनी नाबालिक बेटी आमीना के साथ ज्ञापन देने गए थे, ज्ञापन देने के बाद मो0 कलीम स्थानीय हॉस्पिटल में अपना फिजियोथेरेपी करा रहें थे इसी दौरान रॉबर्ट्सगंज चौकी प्रभारी दरोगा योगेंद्र सिंह अस्पताल पहुँच कर गाली देते घसीटते हुए मो कलीम व बेटी आमीना को पुलिस की गाड़ी में बैठाकर कोतवाली ले गए और वहां कलीम व उसकी बेटी के साथ दरोगा ने मारा पीटा इसके बाद गंभीर अपराधिक धाराओं में चालान कर कलीम को जेल भेज दिया और उनकी बेटी व पत्नी के नाम एफआईआर दर्ज कर दिया है ,कलीम पिछले दो माह से लकवा ग्रस्त हैं वे ना तो अपने से भोजन कर सकते है और ना ही बैठ सकते है और ना ही अपने दैनिक कार्यो को स्वयं से कर सकते है , ऐसे में उनके साथ व उनके नाबालिक बेटी के साथ पुलिस का अमानवीय व संवेदनहीन व बर्बर,निरंकुश सलूक का परिचायक है।सोनभद्र में घटी इस घटना की हम सब निंदा करते है और राबर्ट्सगंज चौकी इंचार्ज को सस्पेंड करने के साथ मामले की न्यायिक जांच की मांग उठाई है | इस मौके पर प्रभु सिंह कुशवाहा एडवोकेट , मानजीत गोंड , आशीष कुमार , आनंद कुमार मौजूद रहें|

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!