PDR News Sonbhadra

हर खबर की सच्चाईं आप तक

औराडंडी करहिया में अवैध बालू लदा ट्रैक्टर पलटा बड़ा हादसा टला

अवैध खनन में लिप्त ट्रैक्टरो का स्पीड दे रही बड़ी दुर्घटना की दावत , ग्रामीण भय के सायें में जीने को मजबूर

तु डाल डाल तो मैं पात-पात कहावत को चरितार्थ करते खनन माफिया

करहिया,बोधाडीह,व औराडंडी में नही रुक रहा अवैध खनन का खेल

(पीडीआर ग्रुप)

विंढमगंज/सोनभद्र। विंढमगंज रेंज के अंतर्गत औराडण्डी ,बोधाडीह करहिया में बालू का अवैध खनन परिवहन कर रहे ट्रेक्टर ट्रॉली आज सुबह 7 बजे औराडंडी स्कूल के पास बुरी तरह पलट गया लेकिन गलिमत यह रहा कि कोई हताहत नही हुआ। खनन माफियाओं को बालू इस तरह रास आई है कि राजस्व विभाग द्वारा बार-बार गड्ढा खुदवाने के बावजूद भी माफियाओं द्वारा अवैध खनन और परिवहन किया जा रहा है| एक तरफ तहसील प्रशासन जगह जगह नदी में जाने वाले रास्ते को जेसीबी मशीन द्वारा गड्ढा खोदवाकर रास्ता काट कर बंद करती है तो फिर वही पर माफियाओं द्वारा गढ्ढा पाट कर और नया रास्ता बनाकर अवैध खनन किया जा रहा है इन माफियाओं के आगे प्रशासन भी पस्त नजर आ रही है |माफियाओं द्वारा लोकेशन के लिए जगह-जगह व्यक्तियों को बैठा दिया जाता है इनकी लोकेशन के आगे प्रशासन भी पस्त है जैसे ही प्रशासन कोई सूचना पर कहीं से निकलती है तो खनन माफियाओं को तुरंत पता चल जाता है और नदी से निकलकर सुरक्षित जगह में छुप जाते हैं |

तहसील प्रशासन और पुलिस विभाग इनके खिलाफ कोई कार्यवाही करने निकलती तो है लेकिन लुकाछिपी का खेल देखकर बैरंग वापस लौट जाती है और इसकी वजह से राजस्व की रोज लाखों रुपए का चुना लग रहा है| ग्रामीणों की माने तो अवैध खनन माफियाओं और स्थानीय वन विभाग की मिलीभगत की चर्चा जोरों पर है वन विभाग के पास रटा रटाया बहाना है कि हमारे यहाँ स्टाफ की कमी है अकेला एक स्टाफ 40 किलोमीटर का एरिया नहीं देख पाता है लेकिन इन सब बहानों के पीछे कोई न कोई तथ्य जरूर छुपा है जिससे आए दिन बालू का अवैध खनन किया जा रहा है और प्रशासन की तरफ से कोई रोक-टोक भी नहीं हो रही है नाही इन खनन माफियाओं के खिलाफ कोई कार्यवाही ही किया जा रहा है| माफियाओं द्वारा ट्रैक्टर ट्राली द्वारा अवैध खनन कर बालू सुरक्षित जोन में डम्प करके रात में ही टिपरों द्वारा बेच दिया जाता है और कुछ जगहों से टिपरों को नदी से ही बालू खनन और परिवहन किया जा रहा है |तहसील प्रशासन ने करहिया बोधाडीह सहित अन्य रास्ता को ब्लॉक कर दिया था लेकिन खनन माफियाओं द्वारा नया रास्ता बना कर रोजाना दर्जनों ट्रेक्टरों व टिपरो में अवैध खनन कर बालू बेच दिया जा रहा है, अब देखना यह है कि प्रशासन कब तक इन अवैध बालू खनन माफियाओं पर नकेल कसने में कामयाबी हासिल करती है|

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!