PDR News Sonbhadra

हर खबर की सच्चाईं आप तक

विंढमगंज रेंज में धन उगाही कर पकड़ कर छोड़े जा रहे ट्रैक्टर ,और तब, जब अपने कारखास के गुर्गे के ट्रैक्टर को तांत्रिक ने पकड़ा…..फिर रात भर डूमरा में हुआ नदियों का चीरहरण

दिनेश यादव

विंढमगंज/ सोनभद्र| विंढमगंज रेंज में अवैध खनन में लिप्त ट्रैक्टर को नशे में हीरों बनने के चक्कर में कथित तांत्रिक उन ट्रैक्टरों को भी पकड़ ले रहा है जिन्होंने अवैध खनन करने के एवज माहवारी भी दे रखा है,वह एक कहावत है ना ‘चला मुरारी हीरो बनने ‘ यह बात उस तांत्रिक पर सटीक बैठ रही है जिसने विंढमगंज रेंज को खनन का हब बना दिया | जहां सैकड़ो ट्रैक्टर से माहवारी वसूल कर अवैध खनन कराया जा रहा है ,वहीं दिखावे के लिए धम्मा चौकड़ी भी जारी है जबकि उक्त रेंज में अवैध खनन की जांच की मांग की आवाज भी उठाई जा चुकी है और तत्कालीन डीएम ने जांच बैठाया है | मुरारी ( तांत्रिक) दिखावे के लिए शराब के नशे में रात्रि गस्त पर निकल रहा है ,और जिन्होंने उसके कारखास को मासिक एंट्री फीस दी है उसको भी पकड़ ले रहा है , और जब बात कारखास तक जा रही है तो उन ट्रैक्टरों मामूली जुर्माना भरवाकर छोड़ भी दिया जा रहा है ,कहने को तो उक्त तांत्रिक अपने अधिकारियों को कहता है कि वन क्षेत्र से खनन नहीं हो रहा है तो दो दिनों पूर्व ट्रैक्टर उसने घिहवी गेट के पास से मुख्य मार्ग पर परिवहन होते क्यों पकड़ा? अब सूत्र बताते ही कि वह भी सेटिंग गेटिंग कर छोड़ने की तैयारी है और संभवतः छोड़ भी दी गयी है | और तब जब कल रात्रि 2 बजे जोरुखाड़ के एक स्कूल के पास कथित तांत्रिक ( मुरारी) ने एक ऐसे खननकर्ता का ट्रैक्टर पकड़ लिया जो उसके कारखास का मुखबिर /गुर्गा / लोकेशन दाता है जो तांत्रिक के कारखास को लोकेशन दे देकर ही अन्य ट्रैक्टरों को तांत्रिक से पकड़वाता है। उसका ट्रैक्टर तांत्रिक द्वारा अवैध बालू से भरे ट्रैक्टर को विंढमगंज रेंज कार्यालय ले ही जा रहा था कि कारखास ट्रैक्टर छुड़वाने की सेटिंग गेटिंग करने पहुँच गया और ट्रैक्टर को छुड़वा दिया | बालू से भरा ट्रैक्टर बालू पलटवा छोड़ दिया गया और तब शुरू हुआ तांडव ,मध्यरात्रि से पूरी रात दिन के उजियारे तक डूमरा के कनहर नदी से अवैध खनन कर खननकर्ताओं नें पूरी नदी का चीरहरण कर दिया और एक जांच है कि जो 4 माह बीत जाने के बाद भी पूरी नहीं हो रही|

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!