PDR News Sonbhadra

हर खबर की सच्चाईं आप तक

खजुरी गांव के मुसहर बस्ती में बने शौचालय शौचमुक्त अभियान को मुँह चिढ़ा रहे

26 शौचालयों में से ज्यादातर शौचालय दरवाजा विहीन

खुले में शौच जाने को मजबूर मुसहर जाति के लोग

(पीडीआर ग्रुप)
दुद्धी/ सोनभद्र| खानाबदोशी की जिंदगी गुजर बसर कर रहे मुसहरों को जब बस्ती में शौच हेतु शौचालय बनवाया गया तो उनका खुशी का ठिकाना ना रहा ,लेकिन इस खुशी पर तब ग्रहण लग गयी जब बस्ती में बनवाये गए सभी 26 शौचालयों में से ज्यादातर शौचालयों के दरवाजे हल्की हवा की झोंको में टूट कर गिर गए| लोंगो की माने तो शौचालय निर्माण में दरवाजों की गुणवत्ता का तनिक भी ख्याल नहीं रखा गया|
आप तो आम जुबान पर है कि दुद्धी ब्लॉक में अगर खुले में शौचमुक्त अभियान को अगर मुँह चिढ़ाते शौचालयों को देखना हो खजुरी गांव में आसानी से देखा जा सकता है यहां मुसहर बस्ती में वर्ष भर पूर्व में बनवाये गए सभी 26 शौचालयों में से ज्यादातर शौचालय में दरवाजा ही नहीं है अब बिना दरवाजा का शौचालय प्रयोग करने को लेकर मुसहरों में संशय बना हुआ है कि शौचालय का प्रयोग करें तो कैसे करें लिहाजा वे खुले में मजबूरन शौच करने जा रहें है और लगभग तीन लाख रुपये से बनवाये गए शौचालय सिर्फ शोपिस बने है | दूर से देखने पर तो शौचालय रंगों की पुताई से चकाचक लग रहे है लेकिन पास जाकर देखने पर ना तो शौचालयों में दरवाजे है और ना ही साफ सफाई|
मुसहर जाति के युवक सुशील ने बताया कि पहले दरवाजा लगवाया गया था लेकिन हवा में टूट गया ,अब दरवाजा ही नहीं है तो शौचालय का प्रयोग नहीं हो रहा ज्यादातर लोग खुले में ही शौच को जा रहे हैं|

उधर ग्राम विकास अधिकारी यशवंत गौतम ने कहा कि सभी शौचालय कंप्लीट थे ,दरवाजे लगवाए गए थे, इनका प्रयोग नहीं किये जाने और रुचि ना दिखाने से व समुचित देखभाल अभाव में दरवाजे हवाओं में या किसी अन्य कारणों से टूट गए है|इसका प्रयोग के लिए उन्हें जागरूक करना जरूरी है जिसमें मीडिया भी योगदान दे ,अभी पर्दा लगाकर प्रयोग में लाये,जब प्रयोग करने लगेंगे तो दरवाजा पुनः लगवा दिया जाएगा|

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *