PDR News Sonbhadra

हर खबर की सच्चाईं आप तक

अवैध बालू से ढ़ाली जा रही पुलिया ,तहसीलदार ने कहा होगी जांच

पड़ताल में मौके पर नही मिले जेई ,हो रही थी पुलिया की ढलाई

मामला लोक निर्माण विभाग द्वारा बराईडाड – बैरियाखाड़ी के बीच लौवा नदी पर बनवाई जा रही पुलिया का|

(पीडीआर ग्रुप)
दुद्धी/ सोनभद्र| बराईडाड – बैरियाखाड़ी मार्ग के बीच लौवा नदी पर एक पुल का निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्माण कराया जा रहा है लेकिन उसमें प्रयुक्त हो रही बालू स्थानीय कनहर नदी से ट्रैक्टरों से निकाली गई चोरी की बालू प्रयुक्त की जा रही है,ग्रामीणों की शिकायत पर जब मौके पर पड़ताल की गई तो दर्जनों ट्रैक्टर बालू की ढ़ेर मौके पर मौजूद भी मिली,ग्रामीणों ने कहा कि जब विभाग कार्य मे लगने वाले खनिजों का रॉयलिटी के साथ विभाग स्टीमेट बनाती है और भुकतान देती है तो फिर स्थानीय कनहर नदी से ट्रैक्टरों के माध्यम से क्यों बालू लेकर क्यों खपाई जा रही है , बसपा के विधान सभा प्रभारी व जिला सचिव राजेश घुसिया ने आरोप लगाया कि पुलिया निर्माण में प्रयुक्त हो रही बालू स्थानीय कनहर नदी से चोरी से निकाली गई पिपराडीह कनहर नदी की है जिससे सरकार को भारी पैमाने पर राजस्व की चपत लगाई जा रही है , सरिया व सीमेंट में स्टीमेट के मुताबिक नही है जेई भी मौके से नदारद रहते जिससे मनमाना काम को अंजाम दिया जा रहा है जब एमबी की जरूरत होती है तो जेई नापी करने आते है उन्होंने हो रहे कार्य मे हो रही राजस्व की चोरी की भरपाई का मांग तहसील प्रशासन से की है ,साथ ही गुणवत्ता पूर्ण स्टीमेट के मुताबिक कार्य किये जाने का भी मांग किया है ,ग्रामीण राकेश ,कपुर ,मनबोध आदि का कहना है कि निर्माण में गुणवत्ता का तनिक भी ख्याल नहीं रखा जा रहा सरिया ,सीमेंट सभी मे धांधली की जा रही है।

ढलाई शुरू पर मौके पर जेई नदारद

दुद्धी/ सोनभद्र| जब दोपहर में मौके की पड़ताल की गई तो पुलिया की ढलाई शुरू थी और गुणवत्ता की जांच और मॉनिटरिंग को लेकर वर्क इंचार्ज विभाग के जेई मौके से नदारद मिले, जब इस संदर्भ सहायक अभियंता एसके श्रीवास्तव से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि उन्होंने कहा कि यहां कार्यालय से जेई मौके के लिए निकले है पहुँचने वाले होंगे ,जब इंचार्ज जेई सुखदेव प्रसाद से सेलफोन पर वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि अभी पहुँच रहें है डीएम साहब के मीटिंग में थे ,बालू के बावत कहा कि ट्रैक्टरों के माध्यम से गिरे या कुछ भी हो हमें लीगल रॉयलिटी चाहिए ,हमारा कार्य के गुणवत्ता का ख्याल रखना है , प्रयुक्त हो रहे सीमेंट के बावत पूछने पर बताया कि जो भी ब्रांड उपलब्ध हो उसे लगाया जाना है ब्रांड कोई निर्धारित नही है|

” पुलिया निर्माण में यदि अवैध बालू प्रयुक्त हो रही है तो अभी जांच के लिए कानूनगों और लेखपाल की टीम भेजता हूं ,जांच उपरांत कार्रवाई होगी”
सुरेश चंद्र
तहसीलदार दुद्धी

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *