दुल्हन के साथ दूल्हा ने पैदल पार किया छत्तीसगढ़ बॉर्डर झारखंड के गोधरमाना पहुँच घर भंडरिया के लिए चारपहिया से हुआ रवाना

तीन राज्य पार कर आयी थी बारात

(पीडीआर ग्रुप)

दुद्धी। अमवार चौकी क्षेत्र व बभनी ब्लॉक के कोरची गांव में आज मंगलवार की सुबह एक पिता के यहां बेटी की बारात आयी,लेकिन बारात में सिर्फ चार बाराती बाइक से झारखंड के भंडरिया से आये। शादी के बाद दूल्हा दुल्हन को बाइक पर बिठाकर उसे विदा कर ले गया।यह शादी पूरे क्षेत्रवासियों के लिए नजिर बनी।
कोरची गांव के किसान जसीम की बेटी की शादी की तिथि महीनों पूर्व आज नियत थी कि और इसी दौरान कोरोना महामारी के प्रकोप से गत दिनों झारखंड सहित आज यूपी भी लॉक डाउन हो गया।जिसके कारण बारात लाने में जब वाहन की अनुमति नहीं मिली तो सिर्फ चार बाराती आकर दुल्हन को विदा कर ले गए।शादी मुस्लिम रीति रिवाज के साथ निकाह उपरांत सम्पन्न हुई। ग्रामीणों ने बताया कि जसीम खेती किसानी करता है और आज शादी की तिथि नियत थी।आज शाम 4 बजे मुस्लिम रीति रिवाज से शादी के उपरांत लड़की की बिदाई की गई।बता दे कि वहां से बाइक पर अपने शौहर के साथ सवार हुई दुल्हन छत्तीसगढ़ के सनावल ,रामचंद्रपुर होते हुए बॉर्डर पहुँचा जहाँ से कनहर नदी पैदल पार कर झारखंड के गोधरमाना पहुँचा जहाँ से चार चक्का वाहन से अपने नई नवेली दुल्हन को ले भंडरिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *