छग से अवैध रेत का ओवरलोड परिवहन होने से नाराज ग्रामीणों ने मनरुटोला में रोका ट्रक

4
(2)

कहा कार्रवाई न कर हम ग्रामीणों पर मुकदमा लिखने की धमकी दे रहे बभनी थानाध्यक्ष।

(पीडीआर ग्रुप)
सागोबांध।छग और यूपी के कतिपय खनन माफियाओं द्वारा पुलिस व वन विभाग से मिलीभगत कर सीमावर्ती राज्य छत्तीसगढ़ और तो और यूपी के सीमा से गुजरी पांगन नदी का सीना चिर कर निकाली गई अवैध रेत का ओवरलोड परिवहन फर्जी कागजात लगाकर मनरुटोला – सागोबांध – लीलासी वाया म्योरपुर के रास्ते जिले में परिवहन किया जा रहा है।जिससे क्षुब्ध ग्रामीणों ने आज रात्रि 8 बजे छत्तीसगढ़ से आने वाली ट्रकों को खड़ा करा दिया है।ग्रामीणों का कहना है कि फर्जी परमिट पर चोरी का बालू गैर प्रान्त से यूपी के रास्ते ढ़ोया जा रहा है और जिम्मेदार कान में तेल डाले पड़े हुए है।ग्रामीणों का कहना है कि अभी कुछ माह पूर्व बनी सड़क बड़े बड़े हाच में तब्दील हो चुकी है।रात में हम ग्रामीण सो भी नही पा रहे है ।पता नहीं सोनभद्र जिले के अधिकारी चोरी के बालू का यहां परिवहन कराने को व्याकुल क्यों है।ग्रामीणों ने इस कार्य मे बभनी पुलिस और वन विभाग पर सीधा निशाना साधते हुए इनकी भूमिका की जांच की मांग के साथ जिलाधिकारी से अविलंब छत्तीसगढ़ से अवैध रेत के परिवहन पर रोक लगाने की मांग की है। ग्रामीण राजेश कुमार देहाती , बिहारीलाल यादव ,सुरेश भारती ,श्रवण भारती ,शंभु भारती ,रामप्यारे यादव ,सुरेश यादव ,राजेन्द्र यादव ,श्याम देव यादव देवनारायण धरिकार के साथ आदि ग्रामीणों ने कहा कि इससे से सिर्फ जिम्मेदार मालामाल हो रहे है।जब यूपी सरकार को कोई राजस्व नहीं मिल रहा तो ऐसा चोरी के बालू के परिवहन में बेताबी क्यों है।बता दे कि रात्रि साढ़े 9 बजे तक 7 गाड़ी खड़ा करा दिया है।ग्रामीण मौके पर परिवहन को रोक लगाए जाने और अधूरे प्रपत्रों पर व चोरी का रेत का परिवहन कर रहे ट्रकों पर सिजिंग की कार्रवाई का मांग किया है।

आपको यह लेख/समाचार कैसा लगा ?

Click on a star to rate it!

Average rating 4 / 5. Vote count: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *