दुद्धी- बाल लिंगानुपात में 5 दशक से लगातार गिरावट हमारे देश के लिए चिन्ता का विषय रहा है ।एक देश को पूर्ण रूप से विकास करने के लिए लिंगानुपात बरकरार रखना बहुत ही आवश्यक है ।इसी को ध्यान में रखकर हमारे देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना को 4 वर्ष पूर्व शुरू किया जिससे प्रेरित होकर मैं भी एक गाँव गोद लेकर अभियान को आगे बढ़ाने का बीड़ा उठाया और छत्तीसगढ़, झारखंड व यूपी के सीमा पर स्थित बरखोहरा गॉव को गोद लिया और किसी भी जाति, धर्म के परिवार में लड़की पैदा होने पर उसकी माँ को 5100 रुपये का सहयोग किया जाता हैं जिससे उसके परिवार में या किसी अन्य लोगों में यह भावना विकसित हो कि लड़की पैदा होने पर सहयोग मिल रहा है ।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में सहजिला प्रमुख व भारतीय जनता पार्टी में जिला महामंत्री पद का निर्वहन कर चुके भाजपा नेता सुरेन्द्र अग्रहरि ने बरखोहरा गाँव के दो महिलाओं गीता भुइयाँ पत्नी हृदयनारायण भुइया व फुला रानी पत्नी इंद्रजीत को बच्ची पैदा होने के उपलक्ष्य में क्रमशः 5100 रुपये का सहयोग दिया जिससे दोनों परिवार बहुत खुश हुआ ।सुरेन्द्र अग्रहरि के द्वारा अब तक गांव के 8 निर्धन परिवार को यह सहयोग प्रदान किया गया है। श्री अग्रहरि ने बताया कि दोनों परिवारों को सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में भी जानकारी दिया कि इस योजना का लाभ अवश्य ले जिससे परिवार में कभी भी बच्चियों के प्रति हीन भावना पैदा नही होगी ।यह योजना लोगो की मानसिकता में बदलाव पैदा कर बाल विवाह में कमी व बालिका शिक्षा में बढ़ोतरी का काम करेगी। इस गांव में 400 भुइया व 400 चेरो व 500 यादव बिरादरी के लोग निवास करते हैं और यह तहसील मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर है।बतादे की सुरेंद्र अग्रहरि दुद्धी क्षेत्र जी जनता का निस्वार्थ भाव से हरसम्भव मदद करते है वे भाजपा जिला अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *